Dream Girl Movie Review – Ayushmann and Nushrat Movie

एक लंबे समय से Ayushmann Khurran अपनी भूमिकाओं में तरह-तरह के प्रयोग करने से हिचकते नजर नहीं आते। यही वजह है कि ‘Bareilly Ki Barfi’, ‘Shubh Mangal Savdhan’, ‘Andhadhun’, ‘Article 15” जैसी फिल्मों में उनकी विविधतापूर्ण भूमिकाएं देखने को मिलीं, जिन्होंने उन्हें बॉक्स ऑफिस सफलता के साथ-साथ National Award भी दिलाया। इस बार वह First Time director Raj Shandilya’s के निर्देशन की Dream Girl में नजर आ रहे हैं और यहां भी उन्होंने अपने रोल के साथ एक्सपेरिमेंट किया है और लड़की की आवाज में मनोरंजन भी। लोगो बहुत ही मजा आया यह मूवी देख कर

तो चलिए हम Dream Girl Movie ki स्टोरी देख लेते है

मथुरा में अपने पिता Jagjit Singh (Annu Kapoor) के साथ रहनेवाला युवा Karam Singh (Ayushmann Khurrana) बेरोजगारी से परेशान है। पिता परचून की दुकान चलाते हैं, मगर उनका घर गिरवी रखा हुआ है और उन पर कई बैंकों के लोन भी हैं। Karam Singh के साथ एक दूसरा मसला यह है कि वह बचपन से ही Ladki की आवाज बहुत ही खूबसूरती से निकालता है और यही वजह है कि बचपन से ही मोहल्ले में होनेवाली Ram Lila में उसे Sita और Krishna Lila में Radha का रोल दिया जाता है। अपनी भूमिकाओं से वह पैसे भी कमा लेता है और उसे पहचान भी खूब मिलती है, इसके बावजूद Jagjit Singh को बेटे की इस कला से आपत्ति है। वह चाहते हैं कि Karam Singh कोई सम्मानित नौकरी पा जाए। नौकरी की ऐसी ही तलाश में Karam Singh को छोटू (Rakesh Sharma) के कॉल सेंटर में मोटी Salary पर जॉब तो मिल जाती है, मगर शर्त यह है कि उसे लड़की की आवाज निकालकर क्लाइंट्स से मीठी-मीठी प्यार भरी बातें करनी होंगी। कर्ज और घर की जरूरतों को ध्यान में रखकर वह Pooja की आवाज बनने को राजी हो जाता है। उसका यह राज उसके दोस्त Smiley (Manjot Singh) के अलावा उसकी मंगेतर Mahi (Nusrat Bharucha) तक को पता नहीं। Call Center में पूजा बनकर प्यार भरी बातें करने वाले करम की आवाज का जादू पुलिस वाले Rajpal (Vijay Raj), माही के भाई Mahendra (Abhishek Banerjee), Kishore Toto (Raj Bhansali), Roma (Nidhi Bisht) और तो और खुद उसके अपने पिता Jagjit Singh के सिर इस कदर चढ़कर बोलता है कि सभी उसके इश्क में पागल होकर शादी करने को उतावले हो उठते हैं।

अब बात करते है मूवी के रिव्यु के बारे में – Movie Review

पहली बार Direction की बागडोर संभालनेवाले राज शांडिल्य ने clean कॉमिडी दी है। जाने-माने writer होने के नाते उन्होंने कहानी में humor और entertainment के पल जुटाए हैं, मगर इसके बावजूद first half उतना कसा हुआ नजर नहीं आता। मध्यांतर तक कहानी में कुछ ज्यादा घटित नहीं होता, but हां second half में कहानी अपनी रफ़्तार पकड़ती है और pre-climax में कॉमिडी ऑफ एरर के कारण हंसाते हैं। screenplays में भी कई जगह पर झोल नजर आता है। निर्देशक ने Ayushmann-Nushrat के लव ट्रैक को डेवलप करने में भी खूब जल्दबाजी की है। फिल्म के अंत में राज शांडिल्य ने यह मेसेज देने की कोशिश की है कि social media countless दोस्तों के दौर में हर आदमी अकेला है, मगर उनका यह मेसेज दिल को छूता नहीं है।

तो friends ऐसा है की आप ये ये Movie अपनी Family देखने जा सकते और अगर आप ने ये Dream Girl Movie देख ली है तो Comment में बताये की आप को ये मूवी कैसी लगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *